Advantages Of Bills Of Exchange In Hindi – विनिमय-पत्र के लाभ

Hello दोस्तों ! Accounting Seekho में आपका स्वागत है। आज के इस article में हम जानेंगे “Advantages Of Bills Of Exchange” के बारे में कि Bills Of Exchange बनाने के क्या-क्या फायदे या लाभ होते हैं? इससे पहले के article में Bills Of Exchange के बारे में बहोत ही अच्छे से explain कर चुका हूँ आप चाहें तो उस article को भी पढ़ सकते हैं। इसके अलावा अलग-अलग topic से related बहोत से article पहले से ही हमारी website पर हैं, आप चाहें तो उन्हें भी पढ़ कर अच्छे से समझ सकते हैं।

दोस्तों जब भी हम अपने business के लिए कोई goods उधार पर purchase करना चाहते हैं और यह भी चाहते हैं कि उसका payment हमें आराम से कुछ महीने बाद pay करना पड़े, तो ऐसी सुविधा के लिए उस goods को बेचने वाला जो person होता है जो seller होता है,वह एक document prepare करता है जिसपर आप अपनी sign करके goods ले सकते हैं और उसका payment एक fix date पर कर सकते हैं। अब इस Bill को बनाने के क्या फायदे हैं आइये इसको नीचे दिए हुए points से समझते हैं।

bill of exchange by accounting seekho

1 – Helpful in the purchase and sale of goods on credit –

अगर आप किसी को goods sell कर रहे हैं और buyer जो है वह उसे purchase कर रहा है तो वह उस bill पर अपनी sign करता है जिससे यह surety हो जाती है कि आपका पैसा easily मिल जाएगा। अगर Bill Of Exchange नहीं है तो उधार में sell करने में थोड़ा risk होता है हम उस person पर trust नही कर सकते कि हमारे पैसे time पर मिल जायेंगे या नहीं। इस तरह Bills Of Exchange बनाने का advantage यह है कि इससे easily buyer goods को credit पर purchase कर पा रहा है और seller भी उसे credit पर बिना किसी risk के sell कर पा रहा है और इसकी sale increase हो रही है।

2 – Legal Document –

Bills Of Exchange एक legal document भी होता है इसका मतलब यह है कि जो goods purchase करने वाला person है यानी जो buyer है अगर किसी वजह से वह पैसे देने से मना कर देता है तो seller उस document के base पर court में case file कर सकता है और उस buyer को पैसे के साथ-साथ fine भी देना पड़ेगा। इस तरह वह seller आराम से अपने पैसे recover कर सकता है।

3 – Discounting Facility –

अब जो Bills Of Exchange है वह मान लीजिए 3 महीने का है, buyer अगर आपसे credit पर goods purchase किया है तो वह उसकी amount ठीक 3 महीने बाद pay करेगा। पर अगर seller को कोई emergency पड़ जाती है और उसे पैसे की ज़रूरत पड़ती है तो वह Bills Of Exchange Bank में देकर कुछ discount cut करवाकर अपने पैसे receive कर सकता है यानी Bank कुछ charges काटकर आपको पैसे दे देग।

4 – Relief from sending reminders –

Bills Of Exchange का एक advantage यह भी होता है कि अगर seller कोई goods ऐसे ही बिना Bills Of Exchange के उधार पर sell करता है तो उसे अपने उस customer को बार बार याद दिलाना पड़ता है कि वह उसके पैसे लौटा दे, और वह customer हर बार उस seller को अलग-अलग date बताता है पर payment नहीं करता है। अब इस Bills Of Exchange में buyer को reminder send करने की ज़रूरत नहीं है इसमें payment की date fix होती है और उस buyer को भी याद रहता है कि उस fix date पर पैसे लौटाना है तो वह उस date के आने का wait करता है।

5 – Convenience for the purchaser –

अब इस Bills Of Exchange से Purchaser को goods purchase करने में काफी आसानी होती है। वह जब चाहे goods को उधार में purchase करके उसका payment बाद में आराम से कर सकता है।+

दोस्तों आज के इस article में इतना ही,उम्मीद करता हूँ आपको यह article पसन्द आया होगा। अब आप समझ गए होंगे कि Bills Of Exchange बनाने के क्या-क्या फायदे या लाभ होते हैं? Advantages Of Bills Of Exchange अगर आप इसकी meaning और definition के बारे में जानना चाहते हैं कि Bills Of Exchange किसे कहते हैं? What Is Bills Of Exchange? इसका क्या मतलब होता है? Meaning Of Bills Of Exchange? इसकी क्या-क्या विशेषताएँ होती हैं? Characteristics Of Bills Of Exchange तो इसपर click करके आप इन्हें भी पढ़ कर समझ सकते हैं।दोस्तों इस article को Facebook या Whatsapp के through अपने दोस्तों को भी Share करें।

अगर आप हमारी Website Accounting Seekho की Latest Update पाना चाहते हैं या ऐसे ही और helpful article पढ़ना चाहते हैं तो हमें ज़रूर follow करें। इसके लिए आप हमारे Facebook Page को Like कर सकते हैं ताकि New Article की Notification आपको मिलती रहें और Comment Box में ज़रूर बताएं कि यह post आपको कैसी लगी? हमारे इस article को अपना कीमती समय देकर पढ़ने के लिए धन्यवाद, आपका दिन शुभ हो।

Leave a Reply

%d bloggers like this: