What Is Errors In Hindi? – त्रुटि क्या है?

Hello दोस्तों ! Accounting Seekho में आपका स्वागत है। आज के इस article में हम जानेंगे Accounting में Errors क्या होती हैं? ये कितने types की होती हैं? Meaning And Classification Of Errors In Hindi, तो सबसे पहले समझते हैं What Is Errors In Hindi के बारे में –

What Is Errors In Hindi – 

Auditing के through ही हमें इस बात की जानकारी हो पाती है कि कम्पनी की Balance Sheet Company Act के according बनायी गयी है या नहीं, और यह तभी पता चल सकता है जब उस कम्पनी के Accounts, Documents और उसके Vouchers की जाँच की जाये इसीलिए कम्पनी को अपने Accounts की Audit करानी पड़ती है ताकि errors या उसमें होने वाली गलतियों का पता चल सके। गलतियों का होना भी स्वाभाविक है एक human nature है, भले ही कितनी सावधानी की गयी हो उसमें कुछ-न-कुछ गलतियाँ हो ही जाती हैं। यहाँ तक कि अलग-अलग procedure, checking और verification को apply करने के बाद भी transaction को record करने में गलतियाँ हो जाती हैं। Audit कराने का उद्देश्य ही गलतियों/त्रुटियों का पता लगाना और उन्हें रोकना होता है। इसलिए एक Auditor इन सारी गलतियों का पता लगाता है और उसे authorities या owner को बताता है। इसके लिए यह जानना बहोत ज़रूरी है कि ये Errors कितने types की होती हैं। तो अब हम जानते हैं Errors के Types या Classification के बारे में –

what is errors in hindi by Accounting Seekho

Classification Of Errors In Hindi –

1. Errors of Principle –

ऐसी गलतियाँ जो Accounting के basic principles को follow न करने की वजह से होती हैं। जैसे Revenue Expenditure को Capital Expenditure मान लेना, या फिर Capital Expenditure को Revenue Expenditure मान लेना। ये गलतियाँ Errors of Principle में आती हैं।

2. Clerical Errors –

ऐसी गलतियाँ जो Accounts में total, balancing या फिर posting करते समय हो जाती हैं, उसे हम Clerical Errors कहते हैं। ये दो type की होती हैं।

 (a) Errors of Omission –

जब Books of Accounts में transaction को record ही नहीं किया गया या record किया भी गया तो उसे partially record किया गया, तो ये गलतियाँ Errors of Omission में आती हैं। जब किसी से कोई पैसे मिले और हम उसे record करना ही भूल गए यह Complete Omission कहलाता है, और अगर किसी से पैसे मिले उसे तो record कर लिए पर किससे मिले यह हम record करना भूल गए यह Partial Omission कहलाता है।

(b) Errors of Commission –

इसमें ऐसी गलतियाँ आती हैं जब कोई transaction ही गलत तरीके से record हो जाते हैं या फिर किसी लेन-देन की amount ही गलत लिख दी जाती है, जो निम्नलिखित हैं –

  • जब कोई transaction गलत amount से record कर लिए जाते हैं।
  • जब कोई entry गलत account में कर दी जाती है।
  • गणना सम्बन्धी गलतियाँ।
  • गलत पक्ष (side) posting कर देना।
  • शेष निकालने सम्बन्धी गलतियाँ।
  • Trial Balance (तलपट) में posting के समय होने वाली गलतियाँ आदि।

3. Compensating Errors –

इसमें वे गलतियाँ आती हैं जब एक amount की गलती से दूसरे amount की गलती automatic correct हो जाती हैं। एक गलती का effect दूसरी गलती से दूर हो जाता है। ऐसी गलतियाँ Compensating Errors में आती हैं।

 

दोस्तों आज के इस article में इतना ही उम्मीद करता हूँ आपको  What Is Errors In Hindi और Classification Of Errors In Hindi के बारे में अच्छी जानकारी मिली होगी,

तो इस article की जानकारी अपने दोस्तों को भी ज़रूर दें, इसे Social Media पर भी ज़रूर Share करें।

अगर आप हमारी Website Accounting Seekho की Latest Update पाना चाहते हैं तो हमारे Facebook Page को Like करें ताकि New Article की Notification आपको मिलती रहें। हमारे इस article को अपना कीमती समय देकर पढ़ने के लिए धन्यवाद, आपका दिन शुभ हो।

Who is Auditor & Its Quatilites in Hindi? -अंकेक्षक किसे कहते है ?

2 thoughts on “What Is Errors In Hindi? – त्रुटि क्या है?

Leave a Reply

%d bloggers like this: